नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography In Hindi

नूपुर शर्मा का जीवन परिचय, बायोग्राफी, वकील, आयु, क्या कहा, भाजपा, जन्मदिन, घर, परिवार, धर्म, जाति, राजनीतिक, करियर, शिक्षा, विवाह, अवार्ड्स, विवाद, संपत्ति,  नेटवर्थ, दिल्ली (Nupur Sharma biography In Hindi, BJP, News, Statement, comment, wiki, Lawyer, Birthday,  Cast,  House, Age, Birthday, Family, Cars, Child, Education, Husband, Politics Career,  Marriage, Net Worth, Controversy, Awards, Politician Party)

कुछ दिनों पहले बीजेपी की प्रवक्ता रही नूपुर शर्मा ने टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद साहब पर किये विवादित टिप्पणी के चलते चर्चाओं का विषय बनी हुई है. इस टिप्पणी के चलते भारतीय मुस्लिम समुदाय समेत 12 से अधिक देश जिसमे सऊदी अरब, अफगानिस्तान, ईरान, इराक, ओमान और कतर ने विरोध दर्ज किया. कई इस्लामिक समुदाय के लोगो ने जान से मारने तक की धमकी दे डाली. इसके बाद कुछ मुस्लिम देशों ने भारतीय प्रोडक्ट को बैन की मांग की है.‎ नूपुर शर्मा  के इन बयान के चलते भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने इन्हें पार्टी से निकाल दिया है. तो आज के इस लेख में जानते है नूपुर शर्मा का जीवन परिचय (Nupur Sharma Biography In Hindi) के बारे में.

Nupur Sharma

नूपुर शर्मा का जीवन परिचय | Nupur Sharma Biography In Hindi

नाम (Name) नूपुर शर्मा (Nupur Sharma)
जन्म तारीख (Date Of Birth) 23 अप्रैल 1985
जन्म स्थान (Place) दिल्ली
उम्र (Age) 37 वर्ष
धर्म (Religion) हिन्दू
व्यवसाय  (Business) वकील, राजनेता
शिक्षा (Educational Qualification) अर्थशास्त्र में स्नातक
एलएलएम (पोस्ट ग्रेजुएशन)
स्कूल (School) दिल्ली पब्लिक स्कूल
कॉलेज (College) हिंदू कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, लंदन
नागरिकता (Nationality) भारतीय
राशि (Zodiac Sign) वृषभ
भाषा (Languages) हिंदी, इंग्लिश
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
राजनीतिक दल (Political Party) भारतीय जनता पार्टी
पता (Address) 5-B, गिरधर अपार्टमेंट, फिरोजेशाह रोड, नई दिल्ली-110001

कौन है नूपुर शर्मा (Who is Nupur Sharma)

नूपुर शर्मा भारत की जानी-मानी वकील और राजनेता है. दिल्ली चुनाव में अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ इलेक्शन लड़कर चर्चाओं में आई थी. साल 2020 में भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता के रूप पहचान मिली. लेकिन हाल ही में पैगंबर मुहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी के चलते विवादों से घिर गई. दरअसल एक टीवी चैनल पर हो रही डिबेट में वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर एक आपत्तिजनक बयान दिया था. जिसके चलते पुरे देश और मुस्लिम देशों में उनके खिलाफ करवाई की मांग उठी.

नूपुर शर्मा का जन्म और परिवार (Nupur Sharma Birth and Family)

नूपुर शर्मा का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में 23 अप्रैल 1985 को दिल्ली में हुआ. वह सिविल सर्विस और बिजनेसमैन परिवार से ताल्लुख रखती है. इनके पिताजी का नाम विनय शर्मा है और इनकी माताजी देहरादून की रहने वाली है.

नूपुर शर्मा की शिक्षा (Nupur Sharma Education)

नूपुर शर्मा जैसे-जैसे बड़ी होने लगी उनके माता-पिता ने इनकी शुरूआती पढाई के लिए दिल्ली में स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल को चुना. और दिल्ली पब्लिक स्कूल में एडमिशन लिया यहाँ से इन्होने प्रारंभिक शिक्षा संपन्न की. और इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिंदू कॉलेज में प्रवेश लिया जहा से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की. हिंदू कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद आगे की पढाई के लिए इंग्लैंड चली गई. जहा पर उन्होंने लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स में एलएलएम करने के लिए एडमिशन लिया. और एलएलएम की डिग्री प्राप्त की.

नूपुर शर्मा का करियर (Nupur Sharma Career)

नूपुर बाल्यावस्था से ही काफी बुद्धिजीवी थी, इनका पढने लिखने में रुचि होने के साथ-साथ राजनीती में भी रुझान था. धीरे-धीरे राजनीती में इंटरेस्ट आने लगा. कॉलेज में पढाई के दौरान राजनीतिक मुद्दों पर अपनी बात रखना, इसके चलते दिल्ली यूनिवर्सिटी में रहते हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) शामिल हुई और एक छात्र संघ के रूप में काम किया.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में सदस्य रहते हुए दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने की सोची और साल 2008 में एबीवीपी से अध्यक्ष पद का टिकट लेकर चुनाव लड़ा. और सफलतापूर्वक दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ अध्यक्ष पद के रूप में चुनाव भी जीता.

नूपुर शर्मा का राजनीति करियर (Nupur Sharma Political Career)

नूपुर शर्मा का राजनीति में करियर एक छात्र संघ के रूप में हुआ. कॉलेज में रहते हुए एबीवीपी से उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष पद का चुनाव जीता. एबीवीपी हिंदू राष्ट्रवादी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्टूडेंट विंग है. नूपुर शर्मा का राजनितिक में ग्राफ धीरे-धीरे ऊपर की तरह बढ़ रहा था. उन्होंने भाजपा ज्वाइन कर ली. भाजपा में रहते हुए उन्हें कई पद भी मिले है.

करियर के शुरूआती दौर जुलाई 2009 में नूपुर को टीच फॉर इंडिया की यूथ एंबेसडर के रूप में भी कार्य किया. इसके पश्चात भारतीय जनता युवा मोर्चा की युवा शाखा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की सदस्य भी रह चुकी हैं।

नूपुर ने भाजपा के द्वारा वर्किंग कमेटी में मीडिया प्रभारी युवा मेंबर के रूप में भी काम किया और भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें राज्य कार्यकारी समिति का सदस्य बनाया गया.

नूपुर साल 2013 में भारतीय जनता पार्टी, दिल्ली की कार्य समिति की मेम्बर बनीं और अरविंद प्रधान, अरुण जेटली और अमित शाह जैसे दिग्गज नेताओं के साथ कार्य किया.

साल 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव हुए, इस चुनाव में भाजपा की तरफ से नूपुर शर्मा ने पर्चा भरा और नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र चुना. इस क्षेत्र से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार अरविन्द केजरीवाल और कॉग्रेस से कद्दावर नेता किरण वालिया थे. 2015 के चुनाव का रुझान भारतीय जनता पार्टी की तरह था क्यों कि उस समय पुरे देश में मोदी लहर थी. सभी को यही उम्मीद थी कि नूपुर शर्मा पूर्ण बहुमत के साथ चुनाव जीतेगी.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने देश की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस और भाजपा को पछाड़ते हुए भारी मतों से जीत दर्ज की. और अरविंद केजरीवाल ने जीत हासिल की. नूपुर शर्मा दिल्ली विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल के खिलाफ 31000 वोट से चुनाव हार गईं. वही अरविंद केजरीवाल को 57213 मत प्राप्त हुए.

नई दिल्ली से चुनाव हारने के कुछ दिनों बाद लोक सभा सांसद मनोज तिवारी के नेतृत्व में आधिकारिक तौर पर भारतीय जनता पार्टी दिल्ली का प्रवक्ता बनाया गया. साल 2020 में उन्हें भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जे पी नड्डा की अध्यक्षता में बीजेपी का राष्ट्रीय प्रवक्ता के रूप में चुना गया.

बीजेपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता बनने के बाद नुपुर टीवी डिबेट में अपनी बात रखने लगी. हर शाम टीवी डिबेट में अपनी बात को रहते हुए विरोधी पार्टियों के प्रवक्ताओं की चुप्पी साध देने पर मजबूर कर देती है. दरअसल नुपुर एक अच्छी प्रवक्ता है अपनी बात को रखना उन्हें अच्छे से आता है इसी के चलते टेलीविज़न चैनलों पर राजनीतिक प्रतिद्वंदियों के साथ आये दिन किसी न किसी मुद्दों पर बहस करती दिखती है. और बीजेपी की तरह से अपनी बात रखती है.

नूपुर शर्मा का विवाद (Nupur Sharma Controversy)

नूपुर शर्मा अपने बेबाक बयानों की वजह से विवादों में घिरी रहती है. नूपुर अक्सर टीवी डिबेट में विवादित टिप्पणी करती रहती है. साल 2017 में इन्हें कोलकाता पुलिस ने नोटिस भेजा था क्यों कि इन्होने 2002 के गुजरात दंगों की एक फोटो  सोशल मीडिया पर शेयर करके कथित तौर पर इसे पश्चिम बंगाल में किसी हिंसा का बताया था.

पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी (Nupur Sharma Comment On Muhammad)

इन कुछ दिनों में नूपुर शर्मा को जो प्रसिद्दी प्राप्त हुई है इसका अंदाज़ा लगाया नही जा सकता है. नूपुर शर्मा की चर्चाएँ भारत के अलावा 56 इस्लामिक देश में भी हो रही है. और यहां तक कि नीदरलैंड के सांसद गीर्ट वाइल्डर्स भी नूपुर के बारे में जानने में इच्छुक है.

27 मई 2022 की शाम को नेशनल टीवी न्यूज चैनल की एक डिबेट में मुस्लिम स्कॉलर ने हिन्दू लोगो की आस्था का मजाक बनाते हुए शिवलिंग को फव्वारा बताया था. इस बात को लेकर नुपुर की धार्मिक भावनाओं ठेस पहुंची। इसके बाद नुपुर ने इस्लामी मान्यताओं का जिक्र करते हुए पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी कर डाली. और विवादों में आ गई. इस बयान के बाद मुस्लिम समुदाय के लोग विरोध प्रदर्शन करने लगे यहाँ तक कि कुछ इस्लामिक कट्टरपंथी ने तो जान से मरने की धमकी तक दे डाली. यह विवाद धीरे-धीरे इस्लामिक देशों तक जा पहुंचा जिसमे सऊदी अरब, अफगानिस्तान, ईरान, इराक, ओमान, कतर समेत कई और देश भी है. और जहा पर भारतीय प्रोडक्ट को बैन करने की मांग करने लगे.

इस मुद्दे ने जैसे ही तुल पकड़ा भारतीय जनता पार्टी एक्शन में आयी और 5 जून 2022 को नुपुर शर्मा को राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से निष्कासित कर दिया. और इनके साथ दिल्ली बीजेपी मीडिया यूनिट के हेड नवीन जिंदल को भी पार्टी से निकाल दिया.

नूपुर शर्मा के पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद से पुरे देश में हिंसा का माहौल बना हुआ है. दिल्ली, उत्तर प्रदेश, रांची और कोलकाता के कई शहरों में मुस्लिम समुदाय के लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे है. और विभिन्न राज्यों में अनेक एफआईआर भी दर्ज हुई है.

विवाद को बढता देख नूपुर शर्मा ने माफ़ी मांगी है और कहा है – रोजाना मेरे भगवान शिव जी का अपमान किया जा रहा था कि वो शिवलिंग नही फुवारा है. मुझसे ये सब बर्दाश्त नही हुआ और रोष में आकर विवादित टिप्पणी कर डाली. अगर मेरे शब्द से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा तो मैं अपने शब्द वापस लेती हूँ. मेरी मंशा किसी को कष्ट पहुँचने की नही थी.

नूपुर शर्मा की शादी (Nupur Sharma Marriage)

साल 2021 में नूपुर शर्मा की सगाई की फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी इसके बाद इनके मंगेतर के बारें में कोई जानकारी सामने नही आई है. इन दोनों की शादी को लेकर कोई खुलासा नही हुआ है.

निष्कर्ष :- तो आज के इस लेख में हमने आपको पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी देने वाली नूपुर शर्मा का जीवन परिचय (Nupur Sharma Biography In Hindi) के बारे में बताया.

FAQ

Q : नूपुर शर्मा कौन है?
Ans : एक वकील है और भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता थी.

Q : नूपुर शर्मा का विवाद क्या है?
Ans : पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के कारण

Q : नूपुर शर्मा ने क्या कहा?
Ans : नूपुर शर्मा ने पैग़ंबर मोहम्मद पर कथित विवादित टिप्पणी की.

Q : नूपुर शर्मा ने क्या विवादित बयान दिया
Ans : मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नूपुर शर्मा ने विवादित बयान दिया

Q : नूपुर शर्मा की जाति क्या है?
Ans : नूपुर शर्मा ब्राह्मण है

Q : नूपुर शर्मा बीजेपी में क्या थी?
Ans : राष्ट्रीय प्रवक्ता

यह भी पढ़े

 

 

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here