कैवल्य वोहरा का जीवन परिचय | Kaivalya Vohra Biography In Hindi

कैवल्य वोहरा का जीवन परिचय, बायोग्राफी, फाउंडर जेप्टो, भारत के पहले टीनएजर, करोड़पति, क्विक ग्रॉसरी डिलीवरी ऐप, हुरुन रिच लिस्ट, वैल्यूएशन, आयु, जन्मदिन, घर, परिवार, धर्म,करियर, शिक्षा, विवाह, संपत्ति,  नेटवर्थ, (Kaivalya Vohra Biography In Hindi, Wikipedia, Zepto Founder, Zepto Company, App,  Startup, Grocery Store, Cast,  House, Age, Born Place,  Birthday, Family, Cars, Child, Education Qualification, Wife, Marriage, Valuation, Net Worth, Contact Number, Linkedin)

19 साल के कैवल्य वोहरा ने 2021 में ग्रॉसरी डिलीवरी एप जेप्टो की स्थापना की. वाईसी कंटिन्युटी फंड के जरिए 1300 करोड़ की फंडिंग जुटाई. आज जेप्टो की मार्किट वैल्यूएशन 7300 करोड़ रूपये (zepto valuation)  है. कैवल्य देश के एकलौते टीनएजर हैं जिनके पास 1 हज़ार करोड़ (zepto founder net worth) से ज्यादा की सम्पति है. और इनका नाम आईआईएफएल वेल्थ हुरुन रिच लिस्ट (IIFL Wealth Hurun India Rich List) के 1,036 वें स्थान पर हैं. उनके साथ 20 साल के आदित पलीचा (Zepto Co Founder) ने भी जगह बनाई है. जेप्टो (Zepto) क्विवक-कॉमर्स कंपनी के अंतर्गत काम करती है. तो आज के इस लेख में हम आपको भारत के सबसे कम उम्र के अमीर टीनएजर कैवल्य वोहरा का जीवन परिचय( Kaivalya Vohra Biography In Hindi) के बारे में पूरी जानकरी देने वाले है.

Zepto Founder Kaivalya Vohra Biography In Hindi

कैवल्य वोहरा  का जीवन परिचय (Kaivalya Vohra Biography In Hindi)

नाम (Name) कैवल्य वोहरा (Kaivalya Vohra)
जन्म तारीख (Date of birth) 15 मार्च 2003
जन्म स्थान (Place) बेंगलुरु, कर्नाटक
उम्र (Zepto Founder Age) 19 साल
धर्म (Religion) हिन्दू
व्यवसाय  (Business) जेप्टो के फाउंडर (Founder Of Zepto)
शिक्षा (Educational Qualification) कंप्यूटर इंजीनियरिंग (ड्राप आउट)
स्कूल (School) दुबई से
कॉलेज (College) स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी
नागरिकता (Nationality) भारतीय
राशि (Zodiac Sign) मिथुन
भाषा (Languages) हिंदी, इंग्लिश
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
पहला स्टार्ट अप (First Start Up) किरानाकार्ट
संपत्ति (Net Worth) 1200 करोड़

कौन है कैवल्य वोहरा (Who is Kaivalya Vohra)

बेंगलुरु में जन्मे कैवल्य सिर्फ 19 साल की उम्र में 2022 की आईआईएचएल वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट के टॉप पर अपनी जगह बनाई है. और भारत के सबसे अमीर युवा (India Rich List 2022) बनकर 1036 वें स्थान पर है. स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से ड्रापआउट कैवल्य वोहरा ने साल 2021 कोरोना के समय में अपने दोस्त आदित पलीचा (Zepto Co Founder) के साथ मिलकर ग्रॉसरी डिलीवरी एप जेप्टो (Zepto Company) की शुरुआत की. जेप्टो का मतलब ‘जेप्टोसेकंड’. यांनी ग्रॉसरी को 10 मिनट में डिलीवरी करना. पहले फंडिंग राउंड से इन्होने 486 करोड़ रूपये जुटाए और इसके बाद फंडिंग से 810 करोड़ रूपये जुटाए. साल 2021 के बाद कंपनी की वैल्यूएशन करीब 7300 करोड़ (Zepto Valuation) तक पहुँच गई.

कैवल्य वोहरा का जन्म और शिक्षा (Kaivalya Vohra Birth and Education )

कैवल्य वोहरा का जन्म 15 मार्च 2003 में कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में हुआ. इन्होंने अपनी स्कूल की पढाई दुबई से पूरी की. स्कूल की पढाई के दौरान कैवल्य की रूचि सिर्फ कंप्यूटर साइंस और मैथ्स में ही थी. दोनों विषय में शानदार पकड़ होने की वजह से कई बार स्कूल में प्राइज भी मिल चूका है. पढाई के अलावा कैवल्य स्पोर्ट्स में भी काफी एक्टिव रहते थे. स्कूल में अंडर 19 बास्केटबाल के कप्तान भी रह चुके है. स्कूल की शिक्षा पूरी करने के बाद हाई एजुकेशन के लिए अमेरिका चले गए वहा स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के कंप्यूटर इंजीनियरिंग में एडमिशन लिया. कुछ समय पढाई की लेकिन  स्टार्ट अप शुरु करने का मन था और साल 2020 में स्टार्ट अप शुरू करने के लिए अपने दोस्त आदित पलीचा के साथ कॉलेज छोड़ दिया और एक स्टार्टअप शुरु किया.जिसका नाम था किरानाकार्ट. लेकिन 10 महीनों के अंदर ही इसे बंद करना पड़ा.

कैवल्य वोहरा का करियर (Kaivalya Vohra Career)

कैवल्य जब स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन कर रहे थे उसी दौरान स्टार्ट अप शुरु करने के बारे में सोचा और अपने दोस्त आदित पलीचा के साथ कॉलेज को छोड़ दिया और अपना पहला स्टार्ट अप शुरु किया.

पहला स्टार्ट अप फेल

साल 2020 में कैवल्य अपने दोस्त आदित के साथ मुंबई के एक फ्लैट में रहते थे. उस दौरान कोरोना का समय था सब कुछ बंद था सभी अपने-अपने घरो में कैद थे. उस वक्त ग्रॉसरी का सामान मिलने में काफी परेशनी हो रही थी. ऑनलाइन आर्डर करने पर 2 से 4 दिनों में होम डिलीवरी हो रही थी. जिस वजह से दोनों काफी हताश हो गये थे. तब उन्हें जेप्टो का आइडिया आया. इन्होने सोचा कि लॉकडाउन में रोजमर्रा के सामान की होम डिलीवरी सर्विस की लोगो को जरुरत है. और इसी को मद्देनजर रखते हुए दोनों ने ग्रॉसरी डिलीवरी एप की शुरुआत की. और साल 2020 में किरानाकार्ट (KiranaKart) नामक स्टार्ट-अप की स्थापना की. इस स्टार्ट-अप में ऑनलाइन डिलीवरी के लिए दुकानदारो से पार्टनरशिप किया हुआ था लेकिन इन्वेस्टर न होने की वजह से 9 महीने में ही किरानाकार्ट को बंद करना पड़ा.

दूसरा स्टार्ट अप जेप्टो

किरानाकार्ट की असफलता के बाद कुछ समय बात ही कैवल्य और आदित (zepto grocery founder) ने जेप्टो की शुरुआत की. जेप्टो का मतलब “जेप्टोसेकंड” यानि मिनटों में डिलीवरी करने का वादा. और इसकी खासियत भी यही है कि सिर्फ 10 मिनट में होम डिलीवरी करना. वैसे मार्किट में दिग्गज डिलीवरी कंपनी स्विगी, इंस्टामार्ट, डुनजो और ग्रोफ़र जैसी एप इस फ़ील्ड में मौजूद थी. लेकिन तमाम चुनौतियों के बावजूद भी आज जेप्टो अपने फ़ील्ड में जबरदस्त ग्रोथ कर रही है.

जेप्टो एप की सफलता (Success Of Zipto App)

जेप्टो की शुरुआत 2021
जेप्टो के फाउंडर कैवल्य वोहरा
जेप्टो के को-फाउंडर आदित पलीचा
कितने शहर 10 बड़े शहर
प्रोडक्ट 3000 प्रोडक्ट डिलीवरी
स्टाफ और डिलीवरी बॉय 1 हज़ार
जेप्टो की वैल्यूएशन 7300 करोड़

 

जेप्टो ने साल 2021 में फंडिंग के जरिये 486 करोड़ रूपये जुटाए और दिसम्बर में एक और फंडिंग के जरिए 810 करोड़ रूपये मिले. मई 2022 तक जेप्टो कंपनी की वैल्यूएशन 7300 करोड़ रूपये हो गए थी. जेप्टो भारत के 10 बड़े शहरों में 3 हज़ार से ज्यादा प्रोजेक्ट की डिलीवर कर रहा है. इसमें 1000 से ज्यादा स्टाफ और डिलीवर बॉय काम करते है. जेप्टो की टैग लाइन पहले थी “10 मिनट में डिलीवरी” लेकिन अब इसे बदलकर कर दिया है “मिनटों में डिलीवरी”.

जेप्टो एप की नेट वर्थ (Zepto Net Worth)

जेप्टो कंपनी ने फंडिंग राउंड के जरिए 1300 करोड़ रूपये (zepto funding) जुटाए थे,  इस इन्वेस्टमेंट के बाद जेप्टो एप की वैल्यूएशन तक़रीबन दोगुनी होकर 3000 करोड़ रूपये तक पहुंच गई. पिछले साल दिसंबर में इसकी वैल्यूएशन 7300 करोड़ तक पहुँच गई थी.

कैवल्य वोहरा की नेट वर्थ (Zepto Founder Kaivalya Vohra Net Worth)

कैवल्य वोहरा की कंपनी जेप्टो की वैल्यूएशन ने सिर्फ एक साल में 50 फीसदी की उछाल आई है. कैवल्य सिर्फ 19 साल की उम्र में भारत के सबसे अमीर युवा बन गए हैं और वह पहले टीनएजर हैं, जिनके पास 1 हजार करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है. और इसके साथ इनका नाम आईआईएफएल वेल्थ हुरुन रिच लिस्ट में शामिल है.

निष्कर्ष :- तो आज के इस लेख में हमने आपको बताया भारत के सबसे कम उम्र के अमीर टीनएजर कैवल्य वोहरा का जीवन परिचय (Kaivalya Vohra Biography In Hindi)  के बारे में. उम्मीद करते है आपको यह जानकरी जरुर पसंद आई होगी.

FAQ

Q : जेप्टो का निर्माण किसने किया था?
Ans : कैवल्य वोहरा और आदित पलीचा ने

Q : जेप्टो के फाउंडर कौन है?
Ans : कैवल्य वोहरा

Q : जेप्टो के को-फाउंडर कौन है?
Ans : आदित पलीचा

Q : कैवल्य वोहरा की उम्र क्या है?
Ans : 19 साल

Q : आदित पलीचा की उम्र (aadit palicha age) क्या है?
Ans : 20 साल

Q : कैवल्य वोहरा की शिक्षा क्या है?
Ans : कॉलेज ड्राप आउट

Q : जेप्टो ऐप की खास बात क्या है?
Ans : आर्डर के 10 मिनट के अंदर डिलीवरी

Q : जेप्टो की वैल्यूएशन कितनी है?
Ans : 7300 करोड़

Q : कैवल्य वोहरा की नेट वर्थ कितनी है?
Ans : 1000 करोड़

Q : भारत के पहले सबसे अमीर युवा (टीनएजर) कौन है?
Ans : जेप्टो के फाउंडर कैवल्य वोहरा

यह भी पढ़े

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here