भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर | Top 10 Richest Temple of India In Hindi

भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर, हिन्दू मंदिर, वार्षिक आय, चंदा, दान, संपत्ति (Top 10 Richest Temple Of India,  Founder, Famous, Owner, Place, Net Worth, Hindu Temple, Wealthy Temple India)

भारत में पुराने समय से कई ऐसे मंदिर है जिनमे कई सालो से लाखों भक्त दर्शन करने को जाते है. मंदिर की आस्था और भगवान के चमत्कार से भक्तगण अपनी आस्था से दिल खोलकर चंदा और दान करते है. देश में कई मंदिर तो ऐसे है जिनमे चंदा के रूप में सालभर में अरबों रूपये आ जाते है. इन पैसों को मंदिर ट्रस्ट बैंक में जमा करते है या फिर खुद के पास रखते है. देश में ऐसे कई अमीर मंदिर है जिनके पास अरबों का चंदा आता है. तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर (Top 10 Richest Temple of India In Hindi) के बारें में पूरी जानकरी देने वाले है.

भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर (Top 10 Richest Temple of India In Hindi)

भारत की सभ्यता पुराणों और धर्मो की सभ्यता है. हिन्दू धर्म में मूर्ति पूजा को सनातन धर्म में सर्वश्रेष्ठ माना गया है. देश में कई छोटे और बड़े मंदिर है अगर इस सभी को मिला लिया जाते तो तक़रीबन 20 लाख मंदिर होते है. सभी मंदिरों में भगवान की अलग अलग मुर्तिया विराजमान है. कई ऐसे मंदिर हैं जो अपनी बनावट की वजह से प्रसिद्ध है. कोई मंदिर अपने चढ़ावे के कारण प्रसिद्ध है तो कोई अपने करोड़ों रुपये के दान के कारण.

सांई बाबा मंदिर, शिर्डी (Shai Baba Temple, Shirdi)

सांई बाबा का मंदिर महाराष्ट्र के शिर्डी में स्थित है. यह मंदिर एक फ़क़ीर बाबा और गुरु का है भक्त इन्हें संत भी कहते है. बाबा के असली नाम की जानकारी आधिकारिक तौर पर किसी को भी ज्ञात नही है. लेकिन इनका साईं बाबा शब्द शिर्डी में आने के बाद मिला. और यही पर शिर्डी साईं बाबा का मंदिर है. यह मंदिर देश के सबसे अमीर मंदिरों की सूची में शामिल है. जानकारी के मुताबिक मंदिर के बैंक खाते में करीब 32 करोड़ का सोना, 4 हज़ार 428 किलों चांदी और 1800 करोड़ रूपये नकद जमा है. इस मंदिर में हर साल 360 करोड़ रूपये चढ़ावे के रूप में आते है. मंदिर की इनकम और नेट वर्थ दोनों करोड़ो में होती है.

श्री सिद्घिविनायक मंदिर, मुंबई (Shri Siddhivinayak Temple, Mumbai)

श्री सिद्घिविनायक मंदिर देश की आर्थिक नगरी मुंबई में मौजूद है. यह देश के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है. बताया जाता है कि जिन गणेशजी की प्रतिमा की सूड़ राईट तरह होती है वो सिद्ध पीठ से ताल्लुख रखती है. और इन्ही मंदिरों को सिद्घिविनायक मंदिर कहा जाता है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस मंदिर की सालाना आय करीब 125 करोड़ के आस पास होती है. यह मंदिर 3.7 किलोग्राम सोने से कोटिंग की गई है. जो कोलकाता के एक बिजनेसमैन ने दान में दिया था.

तिरुपति बालाजी जी (श्री वेंकटेश्वर स्वामी) का मंदिर, आंध्रप्रदेश (Tirupati Balaji Temple, Andhra Pradesh)

तिरुपति बालाजी जी के मंदिर को हम श्री वेंकटेश्वर स्वामी के नाम से भी जानते है. यह मंदिर आंध्रप्रदेश राज्य के चित्तूर जिले में इंडिया का सबसे अमीर मंदिर में से एक है.यह मंदिर जमीन से 853 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. जानकारी के मुताबिक इस मंदिर को थोडईमाननें ने बनवाया था. मंदिर में 50 हज़ार से ज्यादा भक्त रोजाना दर्शन करने आते है. रिपोर्ट के मुताबिक साल 2021 में इस मंदिर में 833 करोड़ रूपये दान में आये थे और इस मंदिर के पास 9000 किलो सोना है जिनमे से 7 हज़ार किलो सोना बैंक में और 1900 किलों ट्रस्ट के पास रखा है. हर साल इस मंदिर में 1 हज़ार करोड़ रूपये दान में आते है. मंदिर की कुल नेट वर्थ 50 हज़ार करोड़ रूपये है.

श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी (Jagnnath Temple, Puri)

श्री जगन्नाथ मंदिर ओडिशा के पुरी में मौजूद एक हिन्दू मंदिर है. यह विश्व प्रसिद्ध मंदिर भगवान जगन्नाथ यानि श्रीकृष्ण जी को समर्पित है. इस मंदिर को भारत के सबसे अमीर मंदिर में गिना जाता है. इस मंदिर का नाम चार धाम की यात्रा में आता है. मंदिर में हर वर्ष रथ यात्रा का आयोजन होता है जिनमे भगवान श्री जगन्नाथ, उनके बड़े भाई बलभद्र और भगिनी सुभद्रा की प्रतिमा होती है. लाखों लोग इस रथ यात्रा का हिस्सा होते है. रिपोर्ट के मुताबिक मंदिर में 100 किलो से ज्यादा सोना और चांदी है और लाखों करोडो रूपये का चढ़ावा आता है. यूरोप के एक भक्त ने मंदिर को 1 करोड़ 72 लाख रूपये दान में दिए थे.

श्री पदमनाभास्वामी मंदिर, त्रिवेंद्रम (Padmanabhaswamy Temple Trivandrum)

श्री पदमनाभास्वामी मंदिर केरल राज्य के तिरुवनंतपुरम सिटी में स्थित है. यह मंदिर भारत का सबसे अमीर मंदिर है. इसकी ज़िम्मेदारी त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार को दी गई है. यह काफी प्राचीन मंदिरों में से एक है. मंदिर के गर्भ में विष्णु भगवान की मूर्ति है इन्हें देखने भक्त दूर दूर से आते है. मंदिर में काफी भारी भरकम खजाना है जिनमे सोना चांदी, रत्न और हीरे-जवाहरात इत्यादि शामिल है. मंदिर के पास 1 लाख 48 हज़ार करोड़ रूपये से ज्यादा की संपति है.

काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी (Kashi Vishwanath Temple, Varanasi)

काशी विश्वनाथ मंदिर वाराणसी में स्थित है. यह मंदिर बारह ज्योतिर्लिंगों में से है जो हिंदू धर्म एक पवित्र स्थान है. इस मंदिर में भगवान के दर्शन और गंगा में डुबकी लगाने से सारे पाप धुल जाते है. मंदिर में हर साल लाखों करोडो रूपये दान में आते है.

वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू (Vaishno Devi Temple, Jammu)

वैष्णो देवी माता का मंदिर जम्मू के कटरा में 1700 मी. की ऊंचाई पर स्थित है. यहाँ हर साल लाखों की तादाद में श्रद्धालु आते है और माथा टेकते हैं. जानकारी के मुताबिक हर साल यहाँ पर 500 करोड़ रूपये चंदा आता है.

सोमनाथ मंदिर, गुजरात (Somnath Temple, Gujarat)

सोमनाथ मंदिर गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र के वेरावल में मौजूद है. यह मंदिर भी देश के सबसे अमीर मंदिरों की लिस्ट में आता है. इस मंदिर को महमूद ग़ज़नवी 17 बार सोने चांदी लुटे थे. यहाँ पर भी हर साल करोड़ो में चंदा आता है.

मीनाक्षी अम्मन मंदिर, मदुरई (Meenakshi Temple, Madurai)

मीनाक्षी अम्मन का मंदिर तमिल नाडु राज्य के मदुरई नगर में मौजूद है. इस मंदिर का गर्भगृह 3 हज़ार साल पुरानी है.  यह मंदिर देश के सबसे अमीर मंदिरों में शामिल है.

गुरुवायुर मंदिर, केरल (Guruvayur Temple, Kerala)

गुरुवायुर मंदिर केरल राज्य के त्रिस्सूर ज़िले में मौजूद है. मान्यताओ के अनुसार यह मंदिर करीब 5 हज़ार साल पुराना है. इस मंदिर में बेशकीमती खजाने है. और यहाँ करोड़ की तादात में चढ़ावा आता है.

निष्कर्ष– आज के इस आर्टिकल में हमने भारत के 10 सबसे अमीर मंदिर (Top 10 Richest Temple of India In Hindi) के बारें में बताया. उम्मीद करते है आपको यह जानकरी जरुर पसंद आई होगी.

FAQ

Q:  सबसे अमीर मंदिर कौन सा है?
Ans: केरल का पद्मनाभ स्वामी मंदिर

Q:  तिरुपति बालाजी की कुल संपत्ति कितनी है?
Ans: 50 हज़ार करोड़ रूपये

Q:  तिरुपति बालाजी में कितना चढ़ावा आता है?
Ans: 2021 में में 833 करोड़ रूपये चढ़ावा आया था.

Q:  मंदिर का पैसा कहां जाता है?
Ans: ट्रस्ट में

यह भी पढ़े

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here