गौरैया चिड़िया के बारे में जानकारी | Sparrow Bird Information In Hindi

भारत की राजधानी दिल्ली की राष्ट्रीय पक्षी कहे जाने वाली गौरैया की आबादी दिन प्रतिदिन कम होती जा रही है और इसका मुख्य कारण भारत में पहले के मुकाबले ज्यादा प्रदूषण का होना है, कुछ सालो पहले ये नजर भी आते थे लेकिन आज ये दिखना ही बंद हो गए हैं,  तो चलिए जानते हैं गौरैया चिड़िया के बारे में (Sparrow Bird Information In Hindi)

Sparrow-Bird-Information-In-Hindi
Pic Credit – Respective Owners

गौरैया चिड़िया के बारे में जानकारी | Sparrow Bird Information In Hindi

  1. गौरैया के चहचहाने की आवाज, काफी शांत और खुशमिजाज होती हैं।
  2. दुनिया में इनकी प्रजातियों की संख्या फिलहाल 43 है, जो लगातार खत्म होने के कगार पर बढ़ रही है।
  3. गौरैया एक ऐसी प्रजाति का पक्षी होता है जो अंटार्कटिका महाद्वीप को छोड़कर दुनिया के हर कोने में पाया जाता है।
  4. छोटे आकार का ये पक्षी आमतौरपर 5 से 7 साल तक जिन्दा रहता है, और दो तीन अंडे देता है।
  5. गौरैया एक पक्षी है जो एशिया व यूरोप में आसानी से पाया जाता है।
  6. पेड़ों की कटाई, बड़े इन्फ्रास्ट्रक्चर का बनना, जलवायु परिवर्तन और बढ़ते प्रदुषण के कारण इनकी प्रजाति विलुप्त होने के कगार पर है।
  7. इस पक्षी का वैज्ञानिक नाम Passer domesticus (House Sparrow) है।
  8. गौरेया पक्षी 38 किलोमीटर प्रति घण्टे की रफ्तार से उड़ सकती है।
  9. 2012 में गौरैया पक्षी को दिल्ली सरकार द्वारा राष्ट्रीय पक्षी का दर्जा दिया गया था।
  10. गौरैया आम तौर पर खाली और वीरान जगहों पर रहना पसंद करती हैं, इनके जगह के नष्ट होने के कारण इनकी संख्या कम होती जा रही है।
  11. इस दुर्लभ पक्षी को बचाने के लिए भारत सरकार ने इनके रहने के लिए ‘इको-फ्रेंडली बर्ड होम’ नाम के घोंसले बनाए हैं।
  12. गौरैया पक्षी की लंबाई आमतौर पर 16 cm होती है, जबकि इनका वजन 24–39.5 ग्राम तक होता है
  13. इनमें नर और मादा गौरैया को पहचान करना काफी आसान होता है क्योंकि मादा के शरीर पर भूरे रंग की धारियां जबकि नर के शरीर पर लाल और काले रंग की धारियां बनी होती है।
  14. मादा और नर गौरैया में अंतर देखने का एक और आसान तरीका है जिसमे मादा के आँखों के पास काला धब्बा पाया जाता है जबकि नर में यह धब्बा नहीं होता।
  15. पूरे दुनिया में सभी देश मिलकर 20 मार्च को World Sparrow Day मनाते है।
  16. आप नहीं जानते होगें लेकिन गौरैया पानी में तैर सकते हैं ऐसा ये सिर्फ शिकारियों से बचने के लिए करते हैं।
  17. गौरैया खाने में ज्यादातर नट्स, फल, बीज, सब्जियां और कीड़े खाते हैं।
  18. गौरैया को भारत में अलग-अलग राज्यों में, अलग-अलग नामों से बुलाया जाता है जैसे पंजाब में चिरि , जम्मू कश्मीर में चेर, पश्चिम बंगाल में चराई पाखी।
  19. गौरैया की घोंसले बनाने की जिम्मेदारी नर गौरैया की होती है और घोंसले बनाने के बाद मादा गौरैया उन्हीं में अंडे देती है जिस घोंसले को वो पसंद करे।
    हैरान कर देने वाले 25 मज़ेदार रोचक तथ्य
  20. गौरैया के बच्चे 15 दिनों में इतने बड़े हो जाते हैं कि वह अपने घोंसले से उड़ सके।
  21. गौरैया अपना घोंसला अप्रैल से अगस्त महीने में बनाते हैं।
  22. 2013 में गौरैया पक्षी को बिहार सरकार द्वारा राष्ट्रीय पक्षी का दर्जा दिया गया था।
  23. गौरैया की आबादी में कमी होने का मुख्य कारण, एक मोबाइल टावर से निकलने वाला रेडिएशन भी है।
  24. गौरैया एशिया, नॉर्थ अफ्रीका और यूरोप से बाकी महादीपो में पहुंचा था।
  25. दुनिया में गौरैया की सिर्फ 26 प्रजातियां ही बची है, जिसमे से 5 प्रजाती तो अकेले भारत में ही है।
  26. 2015 के आंकड़ों के मुताबिक भारत के लखनऊ में सिर्फ 5692 गौरैया ही बचे हुए हैं जबकि 775 गौरैया पंजाब के कुछ ही इलाकों में बचे है।
  27. हमारे पृथ्वी पर टोटल पक्षियों की आबादी 50 बिलियन है जिसमें से 1.6 बिलियन की आबादी अकेले गौरैया पक्षी की है।
  28. पृथ्वी पर मोजूद Ammodramus henslowii नाम की गौरैया को सबसे दुर्लभ गौरैया की प्रजाति में से गिना जाता है।
  29. खाने की तलाश में यह चिड़िया कई मीलों तक का सफ़र तय कर लेती है।
  30. गौरैया  50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से उड़ सकते है।
  31. इस अनोखी पक्षी के आंखों में 400,000 फोटो रिसेप्टर्स होते है।
  32. इस पक्षी की एक अनोखी आदत होती है कि ये बाकी पक्षियों की तरह रेंग कर चलने के बजाय उछलकर चलती है।
  33. इनकी कुछ प्रजातियां तो ऐसी होती कि ये 10 से 12 हजार के फिट के ऊंचाई तक उड़ सकती है।
  34. साइंटिस्टों के मुताबिक गौरैया पक्षी का एक अजीब नेचर होता है, जब ये उदास होते है तो ये अपने पुंछ को बार-बार हिलाती है।
  35. गौरैया की कुछ प्रजातियां 3300 फिट की ऊंचाई पर रहती है।
  36. आमतौर पर गौरैया 4 से 5 साल तक जीवित रह सकता है लेकिन दुनिया में एक गौरैया के पास 23 साल तक जीने का वर्ल्ड रिकार्ड भी है।
  37. मोबाइल टावर के रेडिएशन, मौसम में परिवर्तन और प्रदूषण से भारत में इनकी आबादी 70 से 80 % कम हो चुकी है।
  38. ये छोटी चिड़िया अपना घोंसला छोटे पौधे के टहनियों से बनाती है
  39. गौरैया एक मांसाहारी पक्षी है लेकिन इंसानों के साथ रहकर इनके रहन सहन में काफी बदलाव आ गया।
  40. गौरैया के बच्चे पैदा होते ही इनके डीएनए में बहुत कम माता और पिता का डीएनए होता है जिसमे कुछ बच्चो में ज्यादातर डीएनए इसके मां का ही होता है।
  41. लोमड़ी कुत्ते बिल्ली जैसे मांसाहारी जानवर से गौरैया का जान का खतरा हमेशा बना रहता है क्योंकि इनके लिए गौरैया का शिकार करना काफी आसान होता है।
  42. गौरैया आमतौर पर सफ़ेद और हल्के भूरे रंग में पाई जाती है और इनकी चोंच पीली और छोटे –छोटे पंख होते हैं ।
  43. ये ज्यादातर आलसी होते हैं और इसलिए वह 2 किलोमीटर की डिस्टेंस  के अन्दर ही अपना घोंसला बनाते हैं।
  44. गौरैया चिड़ियां अपने झुंड में ही रहना पसंद करती हैं और अपने झुंड को अकेला छोड़कर यह कहीं नहीं जाती।
  45. हर साल लगभग 1000 गौरैया उड़ते उड़ते ट्रांसपेरेंट शीशे से टकराकर अपनी जान गवां देती है।
  46. गौरैया की आबादी तेजी से घटने के कारण ये कभी भी पृथ्वी से गायब हो सकती है, जिसके लिए इन्हें ‘Endangered’ (ख़त्म होने के खतरे की लिस्ट) लिस्ट में दाल दिया गया है।
  47. वैज्ञानिकों की एक रिसर्च में पता चला है की ये 20 हज़ार फीट की ऊंचाई पर भी उड़ सकते हैं।
  48. गौरैया तीन साल तक जिन्दा रह सकती है, लेकिन अगर इसे कैद करके रखा जाए तो ये 12 से 14 साल तक जिन्दा रह सकती है।
  49. गौरैया एक इंसानों के साथ रहने वाली पक्षी है और ये इंसान के करीब रहना काफी ज्यादा पसंद करती है।
  50. 1950 के दशक में चीन कि सरकार ने लाखो गोरैया को मौत के घाट उतारे थे, क्योंकि वो यहां के किसानों के फसलों को खा जाती थी।
  51. यह पंछी ज्यादातर हर तरह की मौसम में रहना पसंद करते है, पर पहाड़ी इलाकों में यह कम दिखाई देते है।

FAQ

Q : गौरैया कौन सा पक्षी है?
Ans : गौरैया के शरीर पर भूरे रंग की और लाल और काले रंग की धारियां बनी होती है।

Q : क्यों गौरैया कम हो रही हैं?
Ans :मोबाइल टावर से निकलने वाला रेडिएशन की वजह से और गौरैया खाली और एकांत जगह पर रहना पसंद करते है लेकिन बढ़ती जनसँख्या को देखते हुए इनकी जगह ख़त्म होती जा रही है, और यही कारण है इनका काम होने का। 

Q : गौरैया का जीवनकाल कितना होता है?
Ans : गौरैया पक्षी का जीवनकाल सिर्फ 3 साल का होता है।

Q : World Sparrow Day कब मनाते है?
Ans : 20 मार्च को

Q : 20 मार्च को क्या आता है?
Ans : World Sparrow Day

यह भी पढ़े

 

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here