पानी की बचत पर निबंध, उपाय, नारे, कविता | Essay On Save Water In Hindi

पानी की बचत पर निबंध, उपाय, नारे, कविता, चित्र, स्लोगन, महत्व, जल संरक्षण (Save Water Essay, Slogans, Quotes, Poster, Save Life, Poem In Hindi)

दोस्तों पृथ्वी पर पानी सभी जीव जंतुओं और मनुष्य के लिए एक बहुमूल्य संपदा है इसके बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती हैं। पृथ्वी पर स्थित पुल पानी का अधिकतर भाग खारे रूप में समुंद्र व महासागरों में उपस्थित रहता है कुछ प्रतिशत पानी को पीने के लिए उपयोग में लिया जाता है। ताजे और स्वच्छ पानी की आपूर्ति को बनाए रखने के लिए पानी की बचत करना आवश्यक है।

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि पानी की बचत पर निबंध, उपाय, नारे, कविता (essay on save water in hindi). जल का संरक्षण बेहद ही महत्वपूर्ण है इस अभियान के माध्यम से ने केवल हमें ताजा और स्वच्छ जल मिल पाएगा साथ ही आने वाली भावी पीढ़ियों के लिए भी स्वच्छ जल उपलब्ध हो सकेगा।

Save Water Essay In Hindi

पानी बचाओ पर निबंध (Save Water Essay In Hindi)

पानी का क्या महत्व है (Water Importance Of Hindi)

पानी के बिना पृथ्वी पर कोई भी मनुष्य या जीव जंतु जीवित नहीं रह सकता है फसलों के उत्पादन और खेती के लिए पानी का उपयोग किया जाता है। पानी पीने से पाचन, शरीर का तापमान, और अन्य गतिविधियां अच्छी बनती है। पौधे भी अपना भोजन बनाने के लिए पानी का उपयोग करते हैं पानी का इस्तेमाल न केवल सिर्फ पीने के लिए किया जाता है बल्कि इसका इस्तेमाल कपड़े धोने नहाने खाना पकाने जैसे कामों के लिए किया जाता है।

पानी की मदद से ही बिजली उत्पन्न की जाती है जो हमारे दैनिक जीवन में बेहद ही महत्वपूर्ण है वहीं दूसरी तरफ पानी का उपयोग मशीनों को ठंडा करने के लिए किया जाता है। बारिश के रूप में भी पानी का बहुत महत्व होता है बारिश के चलते पेड़ पौधे हरे भरे हो जाते हैं। लेकिन कितनी विडंबना की बात है जल हमारी पृथ्वी के 75 प्रतिशत भाग यानि तीन चौथाई भाग में मौजूद हैं लेकिन पीने के लिए सिर्फ 3% इस्तेमाल किया जाता है। ताज़ा जल का लगभग 68% ग्लेशियर के रूप में पाया जाता है, और लगभग 30% भूजल के रूप में और 0.3 % पानी नदियों तालाबों और झीलों के सतह पर पाया जाता है इसलिए हमारा कर्तव्य बनता है कि हम जल को संरक्षित करके रखें।

यदि आज हम पानी की अच्छी तरीके से बचत करके रखेंगे तो यह हमारे आने वाली पीढ़ियों के लिए भी फायदेमंद रहने वाला है। दोस्तों किसी ने सही कहा है “जल है तो कल है” बिना पानी के पृथ्वी पर किसी भी प्रजाति का जीवन असंभव है। जल है तो कल है यह बात पूर्ण रूप से सही है क्योंकि आज से लगभग 500 साल पहले रहीम दास जी ने कहा था कि “रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून”। बिना जल के मनुष्य का जीवन संभव नहीं है चलना केवल मनुष्य बल्कि पालतू पशुओं के लिए भी बहुत आवश्यक है साथ ही जल चारों और वन्य पशुओं के जीवन का आधार भी है।

पानी बचाने के उपाय (Save Water In Hindi)

घर के अंदर पानी बचाने के तरीके

  1. घर में खाने पीने के बर्तनों को धोते समय नल को आवश्यकता के अनुसार ही खोलना चाहिए।
  2. गाड़ी धोते समय पाइप की बजाय बाल्टी का इस्तेमाल करना चाहिए. इससे काफी मात्रा में पानी की बचत की जा सकता है।
  3. नहाते समय शॉवर की बजाय बाल्टी या मग का इस्तेमाल करना चाहिए इससे भी पानी की बचत होती है इस बात की प्रेरणा आप मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर से ले सकते हैं जो नहाने के लिए केवल एक बाल्टी पानी का इस्तेमाल करते हैं।
  4. अपने घर में मौजूद वॉशिंग मशीन से रोज थोड़े-थोड़े कपड़े धोने की बजाय एक साथ अधिक कपड़े होने के बाद धोएं।
  5. अपने घर में पानी का मीटर लगाए जिससे आपको हर महीने घर पर उपयोग किए जाने वाले पानी की मात्रा के आधार पर बिल का पता चलेगा जिससे आप स्वयं से पानी की बचत करने लग जाएंगे।
  6. यदि आपके घर में कोई भी लीकेज नल है तो उसे आपको किसी प्लंबर की सहायता से शीघ्रता से ठीक करवाना चाहिए क्योंकि इससे बहुत अधिक मात्रा में पानी बर्बाद होता है।
  7. अपने गार्डन में पेड़ पौधों को पंप से पानी देने की बजाय बाल्टी का इस्तेमाल करना चाहिए।
  8. अपने घरों में बारिश के पानी को इकट्ठा करने के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग का निर्माण करवाना चाहिए क्योंकि बारिश के पानी को जरूरत के समय इस्तेमाल में लिया जा सकता है।
  9. छत की टंकी के लिए ओवरफ्लो अलार्म लगवाना चाहिए क्योंकि जब छत की टंकी फुल हो जाती है तो बहुत सारा पानी बर्बाद होता है इसलिए ओवरफ्लो अलार्म पानी की बचत कर सकता है।
  10. RO मशीन से निकलने वाले बेस्ट पानी का इस्तेमाल आप पेड़ पौधों के लिए कर सकते हैं।
  11. अपने घरों में फलों और सब्जियों को धोते समय खुले नल के बजाए किसी बर्तन में धोना चाहिए जिससे वह सही तरीके से साफ हो पाए।

घर के बाहर पानी बचाने के तरीके

  1. फसलों की सिंचाई के लिए नई अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए जिसकी मदद से जल को संरक्षित किया जाता है।
  2. बगीचे में दिन के समय पानी देने के बजाय रात के समय पानी देने से जल का संरक्षण होता है क्योंकि रात के समय वाष्पीकरण नहीं हो पाता है इस वजह से पेड़ पौधे कम मात्रा में जल का उत्सर्जन करते हैं।
  3. सरकारी या निजी पार्क, गली, मौहल्ले, अस्पताल, स्कूलों आदि में कहीं भी यदि नल या टोटी खराब हो तो उसकी सूचना संबंधित कार्यालय में देनी चाहिए ऐसा करने से आप बहुत अधिक मात्रा में जल का संरक्षण कर पाएंगे।
  4. अपने आसपास और दूरदराज के क्षेत्रों में अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाने चाहिए क्योंकि पेड़ पौधे और वर्षा लाने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।
  5. खेती के लिए स्वच्छ जल का उपयोग करने की बजाय ऐसे पानी का इस्तेमाल करना चाहिए जो व्यर्थ रहता है ऐसा करने से पानी की बचत काफी हद तक की जा सकती है।

पानी को बचाना कितना आवश्यक (Necessary To Save Water In Hindi)

स्वच्छ और ताजा जल सभी के लिए बहुत मूल्यवान है इसलिए जल का संरक्षण आवश्यक है क्योंकि दुनिया भर में लगभग 3.4 मिलियन लोग पानी से संबंधित बीमारियों से ग्रस्त होकर मर जाते हैं। हमारे भारत देश में आज भी ऐसे बहुत सारे गांव है जहां पर पानी की किल्लत है वह लोग बारिश के पानी का इस्तेमाल पीने के पानी के लिए करते हैं।

उदाहरण के लिए राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर जिलों में लोग आज भी बारिश के पानी को संरक्षित कर कर पीने के लिए इस्तेमाल करते हैं इसलिए हमारा कर्तव्य बनता है कि हम पानी को व्यर्थ ना करें और दूसरों को भी इसे व्यर्थ ना करने की सलाह दें। जल का संरक्षण नहीं करने के चलते लगातार जल स्तर नीचे गिरता जा रहा है और फसलों को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल पा रहा है।

पानी के बचाने से हमारे पैसों की बचत तो होती ही है इसके साथ ही बिजली की बचत कर सकते हैं। दूसरी तरफ हम जल का संरक्षण करते हैं तो यह जरूरतमंद लोगों के काम आ सकता है ऐसे लोग जो पीने के पानी के लिए हर रोज 10 से 12 किलोमीटर पैदल जाते है।

जल बचाओ स्लोगन (Saving Water Slogans In Hindi)

  • करोगे जल की रक्षा, तो होगी सुरक्षा।
  • जल है तो कल है।
  • जल है तो जीवन है।
  • जल बचाओ, जीवन बचाओ।
  • जल बचाओ, दुनिया बचाओ।
  • जल को बचाना हमारे हाथ में है।
  • जल का इस्तेमाल करो, लेकिन व्यर्थ मत करो।
  • सोच समझकर खर्चे पानी, व्यर्थ बहाने में है हानि।
  • पानी है अनमोल रतन, इसे बचाने का तुम करो यतन।
  • जल है जीवन का आधार, इससे होते सपने साकार।
  • आओ मिलकर जल बचाएं, इस धरती को स्वर्ग बनाएं।
  • आज से यह नियम बनाओ, सुबह-शाम पानी को बचाओ।
  • जल होगा तो खुशियों का हर पल होगा।
  • जब पानी को बचाएगा, तभी समझदार कहलाएगा।
  • हर घर में पानी बचाना है, हर घर में खुशियाली लाना है।
  • जल की होगी बर्बादी, तो नहीं होगी कोई आबादी।

जल बचाओ पर कविता (Poem On Save Water In Hindi )

मत करो मुझको बर्बाद,
इतना तो तुम रखो याद,
प्यासे ही तुम रह जाओगे,
मेरे बिना न जी पाओगे।

कब तक बर्बादी का मेरे,
तुम तमाशा देखोगे,
संकट आएगा जब तुम पर,
तब तुम मेरे बारे में सोचोगे।

संसार में रहने वालों को,
मेरी जरूरत पड़ती है,
मेरी बर्बादी के कारण,
तेरी उम्र भी घटती है।

पछताओगे रोओगे तुम,
नहीं बनेगी कोई बात,
सोचो समझो करो फैसला,
अब तो यह है तुम्हारे हाथ।

सतर्क हो जाओ बात मान लो,
मेरी यही कहानी है,
करो फैसला मिलकर आज,
मत करो मुझको बर्बाद,
इतना तो तुम रखो याद।

निष्कर्ष- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पानी की बचत पर निबंध, उपाय, नारे, कविता (essay on save water in hindi)। बेहद पसंद आई होगी। यदि प्रत्येक व्यक्ति यह संकल्प ले कि वह पानी को व्यर्थ नहीं करेगा तो जल का संरक्षण कर पाना बड़ा आसान हो जाएगा। वर्तमान समय में जल का इतना दुरुपयोग हो रहा है कि आने वाले कुछ सालों बाद हमें जल की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है इसलिए जितना हो सके पानी को बचत करने का प्रयास किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़े

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here