1 नवंबर से होने जा रहे हैं ये 5 बड़े बदलाव

1 नवंबर 2022 से होने 5 बड़े बदलाव: आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे इंश्योरेंस क्लेम, सिलेंडर की होम डिलीवरी के लिए ओटीपी जरुरी, बिजली सब्सिडी के नियम में बदलाव, जीएसटी रिटर्न में चार अंकों का कोड अनिवार्य और ट्रेनों का नया टाइम टेबल.

5 BIG Changes Coming Into Effect From November 1

1 नवंबर से होने जा रहे हैं ये 5 बड़े बदलाव

आज अक्टूबर महीने का आखिरी दिन है और कल से नवंबर का नया महीना शुरू होने जा रहा है. ऐसे में हर महीने सेंट्रल गवर्मेंट कुछ न कुछ अहम और बड़े बदलाव करती रहती है. ऐसा ही कुछ बदलाव नवंबर महीने के शुरुआत में होने जा रहा है. जिसका असर ना सिर्फ आपकी जेब पर पड़ेगा बल्कि इसका असर आपके जीवन पर भी पड़ने वाला है. नवंबर माह की पहली तारीख से गैस सिलेंडर की कीमत में बदलाव के साथ बीमा दावों से जुड़े नियमों में बदलाव देखने को मिलेगा. इसके अलावा बिजली सब्सिडी और GST रिटर्न में कुछ बदलाव किए गए है. 1 नवंबर से वित्तीय लेनदेन में कई बदलाव होंगे, जिसका असर सीधा सभी स्तरों पर लोगों पर पड़ेगा. इन परिवर्तनों में बिजली सब्सिडी नियम, पीएम किसान सम्मान निधि योजना और एलपीजी की कीमतें भी शामिल हैं. तो आज के इस लेख में हम आपको नवंबर महीने में होने वाले बदलाव (5 BIG Changes Coming Into Effect From November 1) के बारें में पूरी जानकारी देने वाले है.

इंश्योरेंस क्लेम से जुड़ा नया नियम

1 नवंबर 2022 से बीमा पॉलिसियों के लिए एक बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है. बीमाकर्ताओं को 1 नवंबर से केवाईसी करना अनिवार्य होगा. भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण ने एक बयान जारी कर कहा था कि 01 नवंबर, 2022 से स्वास्थ्य और सामान्य बीमा के लिए केवाईसी सत्यापन करवाना अनिवार्य हो जाएगा। 31 अक्टूबर से पहले  केवाईसी सत्यापन स्वैच्छिक था. आसान भाषा में समझे तो यदि बीमा दावे के समय केवाईसी दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए जाते हैं, तो दावा रद्द किया जा सकता है.

सिलेंडर की होम डिलीवरी के लिए ओटीपी जरुरी

1 नवंबर 2022 को दूसरा सबसे बड़ा बदलाव एलपीजी सिलेंडर की बुकिंग से जुड़ा हुआ है. एक नवंबर से रसोई गैस सिलेंडर की डिलीवरी प्रोसेस में कुछ परिवर्तन किया गया है. गैस सिलेंडर की बुकिंग करते समय उपभोक्ताओं को उनके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा. इसे वन टाइम पासवर्ड प्रोसेस भी बोल सकते है. जब सिलेंडर उनके दरवाजे पर तभी डिलीवर किया जाएगा जब वे डिलीवरी के समय अपना ओटीपी शेयर कर देंगे. वहीं ओटीपी सिस्टम की पुष्टीकरण के बाद ही सिलेंडर की डिलीवरी की जाएगी.

बिजली सब्सिडी के नियम में बदलाव

1 नवंबर 2022 से बिजली सब्सिडी के कुछ नए नियम लागू कर दिए जायेंगे. इस बिजली सब्सिडी का लाभ सिर्फ दिल्ली की जनता को ही मिलेगा. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले महीने कहा था कि जो लोग बिजली सब्सिडी के लिए आवेदन नहीं करेंगे उन्हें अपने गैर-सब्सिडी वाले बिलों का भुगतान करना होगा लेकिन अगले महीने आवेदन कर सकते हैं. वर्तमान में दिल्ली में 58 लाख घरेलू बिजली उपभोक्ता हैं, जिनमें से 47 लाख उपभोक्ता प्रति माह 200 यूनिट फ्री बिजली का लाभ उठाते हैं. बिजली सब्सिडी के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 31 अक्टूबर 2022 बताई गई थी.

जीएसटी रिटर्न में चार अंकों का कोड अनिवार्य

1 नवंबर से करदाताओं को जीएसटी रिटर्न में कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे. करदाताओं को 5 करोड़ रुपये से कम टर्नओवर वाले जीएसटी रिटर्न में चार अंकों का एचएसएन कोड देना अनिवार्य होगा. पहले दो अंकों का HSN कोड डालना होता था. 1 अप्रैल, 2022 से, 5 करोड़ से अधिक के कारोबार वाले करदाताओं के लिए चार अंकों का कोड और उसके बाद 1 अगस्त 2022 से छह अंकों का कोड डालना अनिवार्य कर दिया गया है.

ट्रेनों का नया टाइम टेबल

1 नवंबर से इंडियन रेलवे के टाइम टेबल में कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे. 1 नवंबर से लंबी दूरी की ट्रेनों के लिए एक नया टाइम टेबल बनाया जाएगा.  जिसमे 13 हज़ार पैसेंजर ट्रेन और  7 हज़ार मालगाड़ियों के टाइम में परिवर्तन होगा. इसके अलावा देशभर में चलने वाली 30 राजधानी ट्रेनों के समय में भी बदलाव किया जाएगा.

ये भी पढ़ें

 

 

Founder of Wonder Facts Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here