राजस्थान बजट में प्रदेश की जनता को क्या-क्या मिला? | Rajasthan Budget 2024-25 PDF in Hindi

Rate this post

राजस्थान बजट की मुख्य विशेषताएं, राजस्थान बजट 2024 25 पीडीएफ, Rajasthan Budget 2024-25 PDF In Hindi

Rajasthan Budget 2024-25 – राजस्थान विधानसभा में 08 फरवरी 2024 (budget 2024 rajasthan) को उप मुख्यमंत्री दिया और वित्त मंत्री दिया कुमारी ने अपना पहला अंतरिम बजट पेश किया है. राजस्थान में बीजेपी की सरकार बनने के बाद प्रदेशवासियों को बजट से सौगातों और राहतों की काफी उम्मीदें हैं. ऐसा 20 साल बाद होगा कि वित्त मंत्री के तौर पर मुख्यमंत्री की जगह उप मुख्यमंत्री बजट पेश कर रहा है. साल 2004 से लेकर 2023 तक वित्त विभाग मुख्यमंत्री के पास ही रहता था.

Rajasthan Budget 2024-25 PDF in Hindi

राजस्थान अंतरिम बजट की 10 बड़ी घोषणाएं

  • मंडी टैक्स खत्म होने से चीनी और गुड़ सस्ते हो जायेंगे. भूमि कर समाप्त करने की भी घोषणा की.
  • सामाजिक सुरक्षा के तहत महिलाओं और बुजुर्गों की पेंशन 1000 रुपये से बढ़ाकर 1150 रुपये कर दी गई है.
  • बुजुर्गों को अब रोडवेज किराये में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी. अभी तक यह छूट सिर्फ 30 प्रतिशत ही मिल रही थी.
  • मंदिरों के विकास एक लिए 315 करोड़ का बजट की घोषणा.
  • बेरोजगारो के लिए 70 हजार नई सरकारी भर्तियों की घोषणा. RPSC और कर्मचारी चयन आयोग परीक्षाओं का वार्षिक कैलेंडर जारी किया जाएगा.
  • टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए 100 करोड़ की लागत से महाराणा प्रताप सर्किट बनाया जाएगा.
  • लाडो प्रोत्साहन योजना के तहत गरीब परिवार को बेटी होने पर 1 लाख रुपये का सेविंग बॉन्ड दिया जाएगा. इसी के साथ डिलीवरी राशि भी 1,000 रुपये बढ़ाकर 6,000 रुपये कर दी गई.
  • सरकारी कर्मचारियों को DPC में दौ साल की छूट मिलेगी. और आशा सहयोगिनियों एवं अन्य के मानदेय में 10 प्रतिशत की वृद्धि की जायेगी.
  • गोपाल क्रेडिट कार्ड किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर बनाया जाएगा. पहले चरण में 5 लाख गोपालकों को भी ऋण दिया जाएगा.
  • जयपुर शहर में सीतापुरा से विद्याधर नगर के बीच रूट मेट्रो का विस्तार किया जाएगा. जयपुर, जोधपुर और कोटा में 500 इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएगी. राजस्थान में 1500 करोड़ रुपये मंजूरी नई सड़कों के लिए किये गई है.

राजस्थान बजट 2024-25 पीडीएफ (Rajasthan Budget 2024-25 PDF Hindi)

  • चिकित्सा और बुनियादी सुविधाओं के लिए 1000 करोड़ रुपये का टैक्स प्रावधान. राज्य की सड़कों के लिए 1500 करोड़ रुपये का ऐलान.
  • आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के लिए 450 रुपए में गैस सिलेंडर मिलेगा. अन्नपूर्णा रसोई के माध्यम से गरीबों को 600 ग्राम भोजन उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है.
  • 300 करोड़ रुपये अधिक खर्च करके प्रति प्लेट सरकारी सब्सिडी 17 रुपये से बढ़ाकर 22 रुपये कर दी गई है.
  • जयपुर शहर में मेट्रो का विस्तार किया जायेगा. नये रूट की डीपीआर को मंजूरी मिल गयी है. सीतापुरा से विद्याधर नगर के बीच मेट्रो रूट फाइनल हो गया है.
  • जोधपुर, जयपुर और कोटा में 500 से अधिक इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी.
  • कृषि क्षेत्र के लिए 2000 करोड़ रुपए का राजस्थान कृषि कोष बनाया जाएगा. 5000 किसानों के लिए 20 हजार खेत तालाब, वर्मी कंपोस्ट, फूड पार्क और बागवानी हब बनाया जाएगा. इसके साथ ही 500 कस्टमर हायरिंग सेंटर बनाए जाएंगे. मुफ्त में बीज किट दिया जायेगा.
  • किसान क्रेडिट कार्ड की तरह पर गोपाल क्रेडिट कार्ड बनाया जायेगा. पहले चरण में 5 लाख गोपालक परिवारों को लोन दिया जाएगा. प्रत्येक गोपालक को 1 लाख रुपये का ऋण दिया जाएगा.
  • लाडो प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है. और लखपति दीदी योजना के अंतर्गत 5 लाख परिवारों की महिलाओं की इनकम में 1 लाख रूपये से ज्यादा की बढ़ोतरी होगी.
  • लाडो प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत गरीब परिवार में बेटी का जन्म होने पर 1 लाख रुपये का बचत बांड दिया जाएगा.
  • पीएम मातृ वंदन योजना के अंतर्गत महिलाओं को पहली डिलीवरी पर दी जाने वाली राशि 5000 रुपये से बढ़ाकर 6000 रुपये कर दी जाएगी.
  • चिरंजीवी योजना का नाम बदलकर “मुख्यमंत्री आयुष्मान आरोग्य योजना” कर दिया गया है. इस योजना में कैंसर का डे केयर उपचार भी शामिल किया गया है.
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन में 150 रूपये की बढोतरी की गई है जिसे 1000 रुपये से बढ़ाकर 1150 रुपये कर गिया गया है.
  • रेहड़ी-पटरी वालों और मजदूरों के लिए मुख्यमंत्री विश्वकर्मा पेंशन योजना की शुरुआत की जाएगी. इसमें मासिक प्रीमियम शुल्क 100 रुपये देना होगा. 60 साल के बाद 2000 रुपये की पेंशन दी जाएगी.
  • 60 से 80 साल तक के बुजुर्गों को अब रोडवेज बसों में सीधा सीधा आधा किराया ही देना होगा. पहले छूट 30 फीसदी छूट थी जिसे बढाकर 50 फीसदी कर दी गई है.
  • गोवर्धन परिक्रमा समेत 20 प्रसिद्ध मंदिरों के विकास के लिए 315 करोड़ रुपये का बजट की घोषणा की गई है.
  • 100 करोड़ रूपये की लागत से महाराणा प्रताप टूरिस्ट सर्किट बनाया जायेगा.
  • चीनी और गुड़ पर मंडी कर खत्म किया गया. साथ ही भूमि कर समाप्त करने की भी घोषणा की गई है. पूर्व के भूमि कर के बकाया प्रकरणों में छूट मिलेगी.

निष्कर्ष- आज के इस लेख में हमने आपको राजस्थान बजट में प्रदेश की जनता को क्या-क्या मिला (Rajasthan Budget 2024-25 PDF in Hindi) के बारें में बताया. उम्मीद करते है आपको यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी. अगर आपका कोई सुझाव है तो कमेंट करके जरूर बताइए. अगर आपको लेख अच्छा लगा हो तो रेटिंग देकर हमें प्रोत्साहित करें.

यह भी पढ़े

Previous articleराजस्थान के विधायकों और मंत्रियों के मोबाइल नंबर की सूची | Rajasthan MLA Contact Number List pdf
Next articleराष्ट्रपति का चुनाव कैसे होता है | President Election Process In India In Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here