बीकॉम क्या होता है ? पूरी जानकारी | B.Com course in Hindi

दोस्तों आज के समय में शिक्षा का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है इस वजह से विद्यार्थी अपने करियर को लेकर काफी सतर्क रहते हैं। पहले विद्यार्थी के मन में इंजीनियर या फिर डॉक्टर बनने की होड़ लगी रहती थी उनका सपना होता था कि वह बड़े होकर डॉक्टर या इंजीनियर बने लेकिन उस समय उनके माता-पिता यही चाहते थे लेकिन आज समय पूरी तरीके से परिवर्तित हो चुका है। 10 वीं करने के बाद प्रत्येक विद्यार्थी यह सोचने लगता है कि अब उसको 12 वीं में ऐसा कौन सा स्ट्रीम चुनना चाहिए जो आगे चलकर उसके करियर को बेहतर तरीके से निखार सके। आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बीकॉम क्या होता है (B.Com course in Hindi) साथ ही इसकी फीस और सब्जेक्ट के बारे में भी जानकारी देने वाले हैं।

bcom course kya hota hai

बीकॉम क्या होता है (What Is B.Com Course In Hindi)

बीकॉम (B.Com) का फुल फॉर्म होता है Bachelor Of Commerce और हिंदी में वाणिज्य से स्नातक करना होता है. यह 3 वर्ष का कोर्स होता है जो कि एक डिग्री कोर्स है यदि 12वीं के बाद आप कॉमर्स सब्जेक्ट लेकर 3 साल तक पढ़ाई कर लेते हैं तो उसके बाद आपका स्नातक पूर्ण हो जाएगा और आपको कॉमर्स ग्रेजुएट बोला जाएगा।

जिन लोगों का सपना बैंकिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाना है या फिर खुद का अपना बिजनेस करना चाहते है तो उनके लिए बीकॉम कोर्स बेहद ही महत्वपूर्ण रहने वाला है। एकाउंटिंग आज के समय में उभरता हुआ जॉब का सबसे अच्छा विकल्प बन रहा है प्रत्येक क्षेत्र में इसकी मांग दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है इसलिए यदि आपके पास बीकॉम में डिग्री होगी तो आप एकाउंटिंग का काम भी कर सकते है।

इसलिए बीकॉम की पढ़ाई उन लोगों के लिए जरूरी है जो अपना करियर बिज़नेस, फाइनेंस, बैंकिंग, इंश्योरेंस जैसे क्षेत्र में बनाना चाहते हैं।

बीकॉम कौन कर सकता है (Who can do B.Com)

यदि आप भी काम करना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आपने अपनी 12वीं तक की पढ़ाई पूरी कर ली हो। बीकॉम मुख्य रूप से वही विद्यार्थी करते हैं जिन्होंने 11वीं और 12वीं क्लास में कॉमर्स स्ट्रीम से अपनी पढ़ाई की है। लेकिन ऐसा जरूरी नहीं है कि आपके पास 11वीं और 12वीं क्लास में कॉमर्स ही होना चाहिए यदि आपके पास कला (Arts) और विज्ञान (Science) है तो भी आप बीकॉम कर सकते हैं लेकिन साइंस वाला विद्यार्थी तो कॉमर्स की पढ़ाई को अच्छे से समझ सकता है लेकिन आर्ट्स वाला विद्यार्थी कॉमर्स की पढ़ाई नहीं कर सकता। आपके 12वीं क्लास में 50% से लेकर 60% के बीच अंक होने चाहिए यदि आप सामान्य तरीके से भी पढाई की तैयारी करते हैं तो इतने प्रतिशत अंक तो आप बड़ी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

बीकॉम के प्रमुख कोर्स (Major Courses of B.Com)

बीकॉम कोर्स मुख्य रूप से 3 तरीके के होते हैं –

  1. B.Com General
  2. B.Com Honors
  3. B.Com LLB

(1) B.Com General: इस कोर्स में आपको अकाउंटेंसी, टेक्सीएशन, फाइनेंशियल अकाउंटिंग, कंपनी लॉ, बिजनेस इकोनॉमिक्स, और कॉस्ट अकाउंटिंग जैसे कोर्सेज आते है। बीकॉम और बीकॉम ऑनर्स के बीच का अंतर समझे तो बीकॉम ऑनर्स में बीकॉम की तुलना में पढाई का स्तर थोड़ा कठिन होता है।

(2) B.Com Honors : अगर मार्केट में सबसे ज्यादा डिमांड पर कोई कोर्स है तो वह बीकॉम ऑनर्स का है यह भी सामान्य कोर्स की तरह 3 साल का ही होता है। लेकिन इसमें आपको स्पेशलाइजेशन  कोर्स को पढ़ना होता है बीकॉम स्पेशलाइजेशन कोर्स की बात करें तो इसमें बीकॉम बैंकिंग और फाइनेंस, बीकॉम फॉरेन ट्रेड मैनेजमेंट, बीकॉम इंटरनेशनल बिजनेस शामिल है।

(3) B.Com LLB : जो विद्यार्थी बीकॉम के द्वारा लॉ के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं उनके लिए बी कॉम एलएलबी कोर्स बहुत ही सुनहरा अवसर है यह कोर्स 5 साल का होता है। इसे लॉ के प्रोफेशनल कोर्स में से एक माना जाता है. इस कोर्स के द्वारा आप को कॉमर्स की पढ़ाई तो करवा दी जाती है साथ ही कानून की जानकारी भी आपको इसी कोर्स के माध्यम से मिलती है।

बीकॉम में कितने विषय होते हैं? (Subject In B.Com)

बीकॉम में बिज़नेस, फाइनेंस, एकाउंटिंग के बारे में मुख्य रूप से पढ़ाया जाता है लेकिन इसके अलावा कुछ ऐसे विषय भी होते हैं जिनको आप चाहे बीकॉम जनरल करो या फिर बीकॉम ऑनर्स आपको दोनों में ही इन विषय को पढ़ना होता है।

बीकॉम फर्स्ट ईयर सब्जेक्ट

  • Financial Accounting
  • Business Law
  • Business Organization & Management
  • Business Economics
  • Business Statics
  • Computer
  • Environment Study
  • English Secondary Language

बीकॉम सेकंड ईयर सब्जेक्ट

  • Corporate Law
  • Income Tax Law
  • Marketing Management
  • Financial Accounting
  • Cost Accountancy
  • Advance Micro Economics
  • Business Mathematics
  • Principal Of Business Management
  • English Secondary Management

बीकॉम थर्ड ईयर सब्जेक्ट

  • Advance Accounting
  • Auditing
  • Micro Economics
  • Banking and Finance
  • Direct or Indirect Taxes
  • Business Administration
  • Entrepreneurship
  • Business Communication

बहुत सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटी ऐसे होते हैं जिनमें इन विषय स्कोर को सेमेस्टर वाइज डिवाइड करते है जिसमें छह सेमेस्टर किए जाते हैं 6 महीने का एक सेमेस्टर होता है। लेकिन बताई गई सभी सब्जेक्ट आपको पढ़ने होते हैं कुछ यूनिवर्सिटी सेकंड ईयर के सब्जेक्ट को फर्स्ट ईयर में भी पढ़ा सकते हैं या फिर कुछ यूनिवर्सिटी ऐसी होती है जो फर्स्ट ईयर और सेकंड ईयर के सेमेस्टर को फाइनल ईयर में भी पढ़ा सकते हैं।

बीकॉम में एडमिशन कैसे ले (Admission Procedure For B. Com)

बीकॉम में एडमिशन आप दो तरीके से ले सकते हैं पहला तरीका तो यह है कि आपको जिस भी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में एडमिशन लेना है तो उसका आपको एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा यदि आप एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे अंक प्राप्त करते हो तो आपको टॉप्स कॉलेज मिल जाते हैं।

वही दूसरा तरीका एडमिशन का यह है कि आपको 12वीं क्लास में अच्छे अंक लेकर आने होंगे यदि आपके 12वीं में 90% से ऊपर हैं तो आपको अच्छा सा कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है। दूसरे वाले तरीकों को डायरेक्ट एडमिशन कहा जाता है आज के समय में बहुत सारी यूनिवर्सिटी इसी के आधार पर आपको एडमिशन देती हैं।

बीकॉम की फीस (Fees Of B.Com Course)

बीकॉम की फीस कितनी होगी यह आपके यूनिवर्सिटी और कॉलेज पर निर्भर करता है जितनी अच्छी आपकी यूनिवर्सिटी होगी उतने ही ज्यादा पैसे आपको बीकॉम करने में खर्च होंगे। एक औसतन फीस की बात करें तो वह 15000 रूपये से लेकर 1.5 लाख रूपये तक की हो सकती है। लेकिन यदि आप कम पैसों में बीकॉम करना चाहते हैं तो आपको यह कोशिश करनी है कि आपको 12वीं  क्लास में अच्छे मार्क्स लेकर आने हैं जिससे आपको गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट में एडमिशन मिल सके आप बेहद ही सस्ती फीस में बीकॉम की पढ़ाई पूरी कर पाए।

बीकॉम के लिए बेस्ट कॉलेज (List of Top B.Com Colleges in India)

  • श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, नई दिल्ली
  • हिंदू कॉलेज, नई दिल्ली
  • लेडी श्री राम कॉलेज फॉर विमेन, नई दिल्ली
  • हंसराज कॉलेज, नई दिल्ली
  • लोयोला कॉलेज, चेन्नई
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर
  • रामजस कॉलेज, नई दिल्ली
  • नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स, मुंबई
  • मीठीबाई कॉलेज ऑफ आर्ट्स, मुंबई

बीकॉम करने के फायदे (Benefits Of B. Com Course In Hindi)

  1. बीकॉम करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें सबसे ज्यादा नौकरी के अवसर होते है सिवाय साइंस और आर्ट्स स्टूडेंट्स की तुलना में क्योंकि आजकल जितने भी व्यवसाय हैं उन सभी में कॉमर्स के विद्यार्थी की काफी अधिक मांग रहती है।
  2. एक कहावत चलती है कि कॉमर्स का विद्यार्थी कभी भी जॉब्लेस नहीं रह सकता है क्योंकि यदि उसे कोई भी जॉब नहीं मिलती है तो वह खुद का व्यवसाय भी शुरू कर सकता है।
  3. जो विद्यार्थी गरीब फैमिली से आता हैं उनके लिए सामान्य तौर पर बीकॉम करना काफी आसान होता है क्योंकि यह दूसरे कोर्स की बजाय बहुत ही कम पैसों में हो जाता है।
  4. बीकॉम करने के बाद आप सीए जैसे कोर्स को करके हाई प्रोफाइल की जॉब प्राप्त कर सकते हैं और एक अच्छा पैकेज कमा सकते है।
  5. बीकॉम में पढ़ाई के साथ-साथ आपको अच्छी कम्युनिकेशन स्किल का भी ज्ञान मिलता है जिससे आप आगे चलकर एक अच्छे अंत्रप्रेनोर भी बन सकते हैं।
  6. यदि आप बीकॉम करने के बाद एलएलबी करते हैं तो इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप को कानून की पूरी समझ हो जाती है इसके साथ ही GST, Business Law  से संबंधित जानकारी भी हो जाती है।

बीकॉम कोर्स करने के बाद के विकल्प (Options after doing B.Com course)

जब एक बार आप बीकॉम में ग्रेजुएट हो जाते हैं तो उसके बाद आपके सामने बहुत सारे विकल्प निकल कर आते हैं बीकॉम करने के बाद आप निम्न पढ़ाई कर सकते हैं-

  • M.Com (Master of Commerce)
  • MBA (Master Of Business Administration)
  • CA (Chartered Accountancy)
  • CS (Company Secretary)

बीकॉम के बाद आप इन कोर्स को करके किसी भी कंपनी में हाई प्रोफाइल जॉब प्राप्त कर सकते हैं अगर सबसे ज्यादा कोई डिमांडिंग में Course है तो वह केवल बीकॉम में ये कोर्स है।

बीकॉम के बाद नौकरी के विकल्प (Career Options After B.Com)

बीकॉम करने के बाद ऐसा नहीं है कि आप सरकारी क्षेत्र में अपना करियर नहीं बना सकते हैं बीकॉम करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं सरकारी क्षेत्र में जैसे आप बैंकिंग या फिर सिविल सर्विस में जा सकते हैं वही बात करें प्राइवेट क्षेत्र की तो प्राइवेट बैंक, फाइनेंस, में अच्छा करियर बना सकते है।

निष्कर्ष– तो दोस्तो आपको बीकॉम क्या होता है (B.Com course in Hindi) से जुडी जानकारी कैसी लगी, उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी क्योंकि हमने आपको बीकॉम से जुडी सभी बाते इस पोस्ट के माध्यम से बताई है लेकिन फिर भी यदि आपको इससे संबंधित कोई भी प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमसे पूछ सकते हैं।

यह भी पढ़े

मेरा नाम अशोक जांगिड है. मैं जयपुर राजस्थान में रहता हूँ. मुझे कई सालो का ब्लॉग्गिंग का अनुभव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here